Jogi Ji Dheere Dheere lyrics in Hindi from movie Nadiya Ke Paar sung by Jaspal Singh, Hemlata and Chandrani Mukherjee, music composed by Ravindra Jain. Starring Sachin and Sadhana Singh.

जोगी जी धीरे धीरे
जोगीजी वाह जोगीजी
नदी के तीरे तीरे
जोगीजी वाह जोगीजी

जोगी जी कोई ढूँढे मूँगा कोई ढूँढे मोतिया
हम ढूँढे अपनी जोगनिया को

जोगी जी ढूँढ के ला दो
जोगीजी वाह जोगीजी
मिला दो हमें मिला दो
जोगीजी वाह जोगीजी

फागुन आयो ओ मस्ती लायो
भरके मारे पिचकारी सा रा रा रा रा रा
रंग लेके ओ चंग लेके
गावे जोगीरा भीजादी सारी आ रा रा रा रा रा

जोगीरा, आ रा रा रा रा रा
जोगीरा, आ रा रा रा रा रा

जोगी जी नींद ना आवे, जोगीजी वाह जोगीजी
सजन की याद सतावे, जोगीजी वाह जोगीजी

जोगी जी प्रेम का रोग लगा हमको
कोई इसकी दवा जदी हो तो कहो

बुरी है ये बीमारी, जोगीजी वाह जोगीजी
लगे है दुनिया खारी, जोगीजी वाह जोगीजी

सारे गाँव की गोरियाँ रंग गई हमपे डार
पर जिसके रंग हम रंगे छुप गई वो गुलनार
छुप गईं वो गुलनार जोगीजी सूना है सँसार
छुप गईं वो गुलनार जोगीजी सूना है सँसार

बिना उसे रंग लगाए, जोगी जी वह जोगी जी
ये फागुन लौट ना जाए, जोगी जी वाह जोगी जी

जोगी जी कोई ढूँढे मूँगा कोई ढूँढे मोतिया
हम ढूँढे अपनी जोगनिया को

जोगी जी ढूँढ के ला दो
जोगीजी वाह जोगीजी
मिला दो हमें मिला दो
जोगीजी वाह जोगीजी

छुपते डोले राधिका ढूँढ थके घनश्याम
कान्हा बोले लाज का आज के दिन क्या काम
लाज का है क्या काम के होली खेले सारा गाम

रंगी है कब से राधा, जोगीजी वाह जोगीजी
मिलन में फिर क्यों बाधा, जोगीजी वाह जोगीजी

जोगी जी प्रेम का रोग लगा हमको
कोई इसकी दवा जदी हो तो कहो

बुरी है ये बीमारी, जोगीजी वाह जोगीजी
लगे है दुनिया खारी, जोगीजी वाह जोगीजी

हमरी जोगन का पता उसके गहरे नैन
नैनं से घायल करे बैनन से बेचैन
देखन को वो नैन जोगी जी मनवा है बेचैन
देखन को वो नैन जोगी जी मनवा है बेचैन

लड़कपन जाने को है, जोगी जी वाह जोगी जी
जवानी आने को है, जोगी जी वाह जोगी जी

जोगी जी कोई ढूँढे मूँगा कोई ढूँढे मोतिया
हम ढूँढे अपनी जोगनिया को

जो तेरा प्रेम है सच्चा, जोगी जी वाह जोगी जी
जोगनिया मिलेगी बच्चा, जोगी जी वाह जोगी जी

जंतर मंतर टोटका, भस्मिया ताबीज
पी को बस में कर सके दे दो ऐसी चीज़
दे दो ऐसी चीज़ जोगी जी साजन जाए रीझ
दे दो ऐसी चीज़ जोगी जी साजन जाए रीझ

हमारे पीछे पीछे, जोगी जी वाह जोगी जी
फिरे वो आखें मीछे, जोगी जी वाह जोगी जी

जोगी जी प्रेम का रोग लगा हमको
कोई इसकी दवा जदि हो तो कहो
बुरी है ये बीमारी, जोगी जी वाह जोगी जी
लगे है दुनिया खारी, जोगी जी वाह जोगी जी

जोगी जी धीरे धीरे
जोगी जी वाह जोगी जी
नदी के तीरे तीरे
जोगी जी वाह जोगी जी
जोगी जी ढूंढ के ला दो
जोगी जी वाह जोगी जी
मिला दो हमें मिला दो
जोगी जी वाह जोगी जी

जो तेरा प्रेम है सच्चा
जोगी जी वाह जोगी जी
जोगनिया मिलेगी बच्च
जोगी जी वाह जोगी जी

Jab tak pure na ho phere sat
Jab tak pure na ho phere sat
Tab tak dulhin nahi dulha ki
He tab tak babuni nahi babua ki
Na.. Jab tak pure na ho phere saat

Ab’hi to babua pahli bhanvar padi hai
Ab’hi to pahuna delhi hi door badi hai
Ho pahli bhanvar padi hai
Delhi door badi hai
Karni hogi tapasya saari raat

Jab tak pure na ho phere sat
Tab tak dulhin nahi dulha ki
He tab tak babuni nahi babua ki
Na.. Jab tak pure na ho phere sat

Jaise jaise bhanvar pade
Mann angana ko chhode
Ek ek bhanvar nata anjano se jode
Mann ghar angana ko chhode
Anjano se naata jode
Sukh ki badri, aansu ki barsaat

Jab tak pure na ho phere sat
Tab tak dulhin nahi dulha ki
He tab tak babuni nahi babua ki
Na.. Jab tak pure na ho phere saat

Sat phere dharo, babua bharo, sat vachan bhi
Aese kanya kaise arpan kar de, tan bhi man bhi
Sat phere dharo, babua bharo, sat vachan bhi
Aese kanya kaise arpan kar de, tan bhi man bhi

Utho utho babuni dekho dekho dhruva tara
Dhruva tare sa ho amar suhaag tihara
Ho dekho dekho dhruva taara
Amar suhaag tiharaa
Sato phere sat janmo ka saath

Jab tak pure na ho phere sat
Tab tak dulhin nahi dulha ki
He tab tak babuni nahi babua ki
Na..Jab tak pure na ho phere saat

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *